Get started with custom lists to organize and share courses.

Sign up

Class Central is learner-supported. When you buy through links on our site, we may earn an affiliate commission.

समकालीन अस्मितामूलक विमर्श

Dr. Harisingh Gour University and CEC via Swayam

Taken this course? Share your experience with other students. Write review

Overview



20 वी सदी विमर्शों की सदी है। इस सदी में समाज के सभी वंचित समूहों ने अपने हक, अधिकार और अपनी अस्मितागत पहचान के लिए निर्णायक लड़ाई छेड़ रखी है। ये लड़ाई किसी के विरूद्ध नही, बल्कि अपने पक्ष में लड़ी जा रही है। इन लड़ाइयों के पीछे एक सुविचारित दर्शन कार्य कर रहा है। हिंदी साहित्य के तीनों विमर्शों (दलित, नारी और आदिवासी) में समाज के इन वंचित वर्गों ने कहानी, कविता, उपन्यास, आत्मकथा और अन्य विधाओं के माध्यम से साहित्य जगत में मुख्य धारा का ध्यान अपनी ओर खींचा है। इन तीनों विमर्शों में शोषित समाज के हक के लिए लेखन कार्य किया जा रहा है। यह तीनों विमर्श वर्तमान समय में देश के लगभग सभी विश्वविद्यालयों के हिंदी या अन्य भाषाओं के पाठ्यक्रम का हिस्सा है। इस पाठ्यक्रम के माध्यम से बीए की सभी विद्यार्थी साहित्य की नई विधाओं से अवगत होंगे। समकालीन दौर के नये विषयों से छात्र- छात्राएं मुखातिब होंगे ओर यह कोर्स उनके लिए लाभकारी सिद्ध होगा।

Syllabus


COURSE LAYOUT



Week 1 
भारत में हाशिए का समाज
समकालीन अस्मिता मूलक साहित्य : सामान्य परिचय (दलित साहित्य)
दलित साहित्य अवधारणा और इतिहास 

Week 2
दलित आत्मकथा लेखन 
दलित कविता लेखन

Week 3 दलित कथा लेखन (उपन्यास)
दलित कथा लेखन (कहानी)

Week 4 समकालीन अस्मिता मूलक साहित्य : सामान्य परिचय (स्त्री साहित्य) 
हिन्दी साहित्य में नारी वादी लेखन : परिचय और परम्परा स्त्री आत्मकथा लेखन 

Week 5 नारीवादी कविता लेखन 
नारीवादी कथा लेखन(उपन्यास)
नारीवादी कथा लेखन (कहानी)

Week 6  समकालीन अस्मिता मूलक साहित्य :सामान्य परिचय (आदिवासी साहित्य)
आदिवासी साहित्य : अवधारणा और इतिहास 
आदिवासी काव्य लेखन

Week 7 आदिवासी कथा लेखन(उपन्यास)
आदिवासी कथा लेखन (कहानी)

Week 8  कविता पाठ :
ठाकुर का कुआ दृ ओमप्रकाश बाल्मिकि, मै दूगा माकूल जबाब. असंगघोष
सात भाईयों के बीच - कात्यायनी , स्त्रियाँ . अनामिका
जंगल जल रहे . रामदयाल मुंडा, तुम्हारे एहसान लेने से पहले सोचना पड़ेगा हमें . निर्मला पुतुल, अघोषित उलगुलान . अनुज लुगुन

Week 9 कहानी / उपन्यास पाठ :
यस सर . अजय नावरियाए
छप्पर ;एक अंशद्ध . जय प्रकाश कदर्म

Week 10  सिलिया . सूशीला टाकभौंरे
छिंन्नमस्ता ;एक अंशद्ध . प्रभा खेतान

Week 11 पगहा जोरी जोरी रे घाटो . रोज केरकेट्टा
पलाश के फूल ;एक अंशद्ध . पीटर पाल एक्का

Week 12 अस्मितावादी अन्य गद्य विधाए पाठ :

मुर्दहिया ;एक अंशद्ध दृ तुलसीराम
  एक कहानी यह भी ;एक अंशद्ध दृ मन्नू भंडारी

दोहरा अभिशाप ;एक अंशद्ध . कौषल्या वैसंत्री 

Taught by

डॉ. मनीष कुमार

Reviews for Swayam's समकालीन अस्मितामूलक विमर्श
Based on 0 reviews

  • 5 star 0%
  • 4 star 0%
  • 3 star 0%
  • 2 star 0%
  • 1 star 0%

Did you take this course? Share your experience with other students.

Write a review

Class Central

Get personalized course recommendations, track subjects and courses with reminders, and more.

Sign up for free

Never stop learning Never Stop Learning!

Get personalized course recommendations, track subjects and courses with reminders, and more.